Connect with us

उत्तराखण्ड

अल्मोड़ा – पीएम विश्वकर्मा योजना को लेकर डीएम विनीत तोमर ने की महवपूर्ण बैठक…

पीएम विश्वकर्मा योजना के जनपद में सफल क्रियान्वयन हेतु एक बैठक का आयोजन आज कलैक्ट्रेट सभागार में जिलाधिकारी विनीत तोमर की अध्यक्षता में आयोजित की गयी। बैठक में संयोजक सदस्य महाप्रबन्धक जिला उद्योग मीरा बोरा में पावर पांइट के माध्यम से उपस्थित लोगों को योजना के प्रमुख तथ्य तथा अन्य महत्वपूर्ण जानकारी दी। उन्होंने बताया कि इस योजना में पारंपरिक कारीगरों और शिल्पकारों के परिवारों को सम्मलित किया गया है। जिसमें प्रारम्भ में 18 चयनित पारंपरिक व्यवसायों (काष्ठ, लौह, स्वर्ण/चॉदी, मिट्टी, पत्थर, चर्म, निर्माण कार्य अन्य कार्याें पर आधरित) को सम्मलित किया गया है। उन्होंने बताया कि यह योजना पंजीकरण आधरित हैं पंजीकरण आवेदनों का ग्राम पंचायत प्रमुख/शहरी स्थानीय निकाय प्रमुख और जिला कार्यान्वयन समिति द्वारा सत्यापन किया जायेगा। उन्होंने बताया कि प्रारम्भ में इस योजना में प्रति परिवार 01 व्यक्ति को कवरेज किया जायेगा।
उन्होंने बताया कि पंजीकरण के दौरान विश्वकर्मा के रूप में मान्यता-पीएम विश्वकर्मा प्रमाण पत्र और आईडी लाभार्थी को प्रदान किया जायेगा। योजना में क्रेडिट सपोर्ट के अन्तर्गत मुक्त उद्यम विकास ऋण के अन्तर्गत 1 लाख रूपये तक (18 महीने के पुनर्भुगतान के लिये पहली किश्त), 02 लाख रूपये तक (30 महीने के पुनर्भुगतान के लिये दूसरी किश्त), रियायती ब्याज दर 5 प्रतिशत (भारत सरकार द्वारा 8 प्रतिशत तक की ब्याज छूट सीमा के अधीन) तथा क्रेडिट गारंटी शुल्क भारत सरकार द्वारा वहन किया जायेगा। उन्होंने बताया कि कौशल सत्यापन के बाद 05 दिवसीय बुनियादी प्रशिक्षण एवं 15 दिन या उससे अधिक अवधि का उन्नत प्रशिक्षण प्रदान किया जायेगा। इस योजना में टूलकिट सहायता हेतु ई-वाउचर के माध्यम से 15 हजार रूपये की सहायता प्रदान की जायेगी।
उन्होंने बताया कि इस योजना में पात्रता हेतु न्यूनतम 18 वर्ष होनी चाहिये, लाभार्थी द्वारा समान क्रेडिट आधारित स्व- रोजगार/व्यवसाय विकास योजनाओं के तहत पूर्व से ऋण नहीं लिया होना चाहिय। उन्होंने बताया कि पिछले 05 वर्षों में भारत सरकार या राज्य सरकार की किसी भी योजना यथा पीएमईजीपी, पीएम स्वनिधि, मुद्रा आदि का लाभ लाभार्थी न हो, परन्तु पीएम स्वनिधि एवं मुद्रा योजना के लाभार्थी द्वारा यदि ऋण चुकता कर दिया गया है तो वह पात्र होगा। इस योजना हेतु ऑनलाइन नामांकन/पंजीकरण वेवसाइड चउअपेीूंांतउंण्हवअण्पद पर किया जा सकता है।
इस अवसर पर जिलाधिकारी ने जिला पंचायती राज अधिकारी को निर्देश दिये कि इस योजना के सफल संचालन के लिये ग्राम पंचायत स्तर पर योजना का प्रचार-प्रसार खण्ड विकास अधिकारियों व ग्राम प्रधानों के माध्यम से किया जाय ताकि अधिक से अधिक लोगों को इस योजना से लाभान्वित किया जा सके। उन्होंने निर्देश दिये कि प्रथम चरण में सत्यापन का कार्य ग्राम प्रधानों के माध्यम से जल्द से जल्द करा लिया जाय। उन्होंने उद्योग विभाग, ग्राम्य विकास विभाग, शहरी विकास विभाग/कौशल विकास विभाग, आई.टी./खादी एवं ग्रामोद्योग बोर्ड एवं जिला लीड बैंक अधिकारी को जो दायित्व दिये गये है उनका सफल क्रियान्वयन करने के निर्देश दिये। इस अवसर पर मुख्य विकास अधिकारी आकांक्षा कोण्डे, कमेटी के सदस्य जिला अध्यक्ष भाजपा रमेश बहुगुणा, जिला महामंत्री अल्मोड़ा धर्मेन्द्र बिष्ट, रानीखेत पूरन रजवार,कैलाश नाथ गोस्वामी, अजय वर्मा, रोहित वर्मा सहित अन्य अधिकारी व सदस्य उपस्थित थे।

टॉप की ख़बर उत्तराखंड तथा देश-विदेश की टॉप ख़बरों व समाचारों का एक डिजिटल माध्यम है। अपने विचार या ख़बरों को प्रसारित करने हेतु हमसे संपर्क करें। धन्यवाद

More in उत्तराखण्ड

Trending News

Follow Facebook Page

संपादक –

नाम: हर्षपाल सिंह
पता: छड़ायल नयाबाद, कुसुमखेड़ा, हल्द्वानी (नैनीताल)
दूरभाष: +91 96904 73030
ईमेल: [email protected]