Connect with us

उत्तराखण्ड

हल्द्वानी- गौला खनन वाहनों के लिए स्वचालित फिटनेस परीक्षण को लेकर RTO ने दिए यह निर्देश

सड़क परिवहन एवं राजमार्ग मंत्रालय, भारत सरकार द्वारा वाहनों के ठीक प्रकार से रख-रखाव के दृष्टिगत ऑटोमेटेड फिटनेस टेस्टिंग सेन्टर की स्थापना हेतु व्यवस्था जारी कर सम्पूर्ण भारत वर्ष के लिये की गयी है। उक्त में पूरे भारत वर्ष में राजस्थान में सर्वप्रथम प्राईवेट ऑटोमेटिड फिटनेस टेस्टिंग सेन्टर खोले गये। उसके उपरान्त उत्तर प्रदेश राज्य के गाजियाबाद आदि में स्थापना की गयी। उत्तराखण्ड राज्य में भी वाहनों की स्वस्थता प्रमाण पत्र आटोमेटिड टेस्टिंग सेन्टर में किये जाने पर विचार किया गया, जिससे सड़कों पर अच्छी कण्डीशन की गाँड़ियों का संचालन हो तथा सड़के सुरक्षित रहें एवं दुर्घटनाओं में कमी आयें। उपरोक्त में भारत सरकार के आदेशों के कम में व अन्य राज्यों में निर्मित स्वचालित परीक्षण स्टेशन की परिकल्पना की गयी, जिसमें प्रथम चरण में कुमाऊँ के रूद्रपुर शहर में स्वचालित परीक्षण स्टेशन स्थापित किया गया, जो विगत 01 वर्ष से सफलतापूर्वक संचालित किया जा रहा है। साथ ही यह भी अवगत कराना है कि हल्द्वानी में स्थापित स्वचालित परीक्षण स्टेशन में पिछले 05 दिवसों में 161 वाहनों की फिटनेस जॉच हुई जिसमें 131 वाहन पास व 30 वाहन अनफिट हुए है। उक्त 30 वाहनों में सुधार के उपरान्त फिटनेस की कार्यवाही की जायेगी। उक्त 161 व्यक्तियों या वाहन स्वामियों में से किसी भी व्यक्ति द्वारा अतिरिक्त शुल्क लिये जाने की शिकायत नहीं की गयी है।

गौला खनन समिति द्वारा प्रदर्शन के सम्बन्ध में एक प्रतिनिधि मंडल सम्भागीय परिवहन कार्यालय हल्द्वानी में अधोहस्ताक्षरी के सम्मुख उपस्थित होकर कहा गयाः-

  1. हजारों की संख्या में गौला के वाहन फिटनेस सेन्टर पर जायेंगे तो जाम व लड़ाई-झगडे की सम्भावना रहेगी।

उक्त में उनको अवगत कराया गया कि पूर्व में भी हजारों वाहनों की फिटनेस एक दिन में नहीं हुई। इसी प्रकार स्वचालित परीक्षण स्टेशन पर भी एक अन्तराल में वाहन आयेंगे। जाम लगने व लड़ाई-झगड़े के सम्बन्ध में अवगत कराया गया कि परीक्षण संस्थान के प्रबन्धक को पूर्ण व्यवस्था सुचारू रूप से संचालन हेतु निर्देशित किया गया है व आवश्यकता पड़ने पर 24 घण्टे संचालन की भी व्यवस्था सम्भव हो सकेगी। इसके अतिरिक्त अधिक संख्या में वाहन आने पर पुलिस विभाग द्वारा भी सहयोग लिया जायेगा, जिससे अराजकता का माहौल न बने।

  1. गौला समिति सदस्यों द्वारा स्वचालित परीक्षण संस्थान पर मनमानी करने व अतिरिक्त शुल्क प्राप्त किये जाने की सम्भावना जतायी गयी।

किसी भी व्यक्ति या गौला समिति के सदस्य जिसकों संशय है वे वाहनों के साथ स्वचालित परीक्षण स्टेशन में फिटनेस सेन्टर जा सकता है व अपने सामने फिटनेस करवा सकता है।

टॉप की ख़बर उत्तराखंड तथा देश-विदेश की टॉप ख़बरों व समाचारों का एक डिजिटल माध्यम है। अपने विचार या ख़बरों को प्रसारित करने हेतु हमसे संपर्क करें। धन्यवाद

More in उत्तराखण्ड

Trending News

Follow Facebook Page

संपादक –

नाम: हर्षपाल सिंह
पता: छड़ायल नयाबाद, कुसुमखेड़ा, हल्द्वानी (नैनीताल)
दूरभाष: +91 96904 73030
ईमेल: [email protected]